टैग्स » हाइकु

तांडव नृत्य -ताजा हाइकु

1- मूसलाधार

       मचाए हाहाकार

       मृत्यु अपार  ।

     —————

2  –  तांडव -नृत्य

      प्रलय का आगाज

      करें संहार ।

 ——————

डॉ रमा द्विवेदी

© All Rights Reserved

हाइकु

बूँदें बरसीं - हाइकु

1 -बूँदें बरसीं

     प्रियतम की कमी

     नैनों से झरीं ।

 ——————-

  2 –  अमृत जल

    झर -झर बरसे

    प्रेमी तरसे ।

 ———————-

डॉ रमा द्विवेदी

© All Rights Reserved

हाइकु