टैग्स » हिन्दी कविता

पहली नज़र का प्यार

पहली नज़र का प्यार, नहीं होता है बार बार,
कभी आँखों में जा बसे, कभी हो जाता है दिल के आर पार।
कभी एक लम्हा भर लगे, कभी उम्र भर का इंतज़ार।
पहली नज़र का प्यार,

Poem

इंसाफ़

हमारी ग़लती भी जुर्म है उनका जुर्म भी माफ़ था,
मासूम डरता फिर रहा है गुनहगार बैख़ौफ था।
चंद दौलतमंदों तले करोड़ों ग़रीब कुचल रहे हैं,
इंसानियत की आबरू लूट रही है शर्मसार इंसाफ़ था।

सब ख़ुशहाल हों, बुद्धिजीवियों का अजीब प्रयास था,

Poem

ग़ज़ल - इन्दु श्रीवास्तव

आए हैं जिस मक़ाम से उसका पता न पूछ
रुदादे-सफ़र पूछ मगर रास्ता न पूछ

गर हो सके तो देख ये पाँवों के आबले
सहरा कहाँ था और कहाँ ज़लज़ला न पूछ 7 और  शब्द

Poetry

यहाँ हर रिश्ते की बुनियाद ही स्वार्थ है

नित्य कहता हूँ कड़वा है पर परमार्थ है,
यहाँ हर रिश्ते की बुनियाद ही स्वार्थ है।
यहाँ हर एक का दुसरे से तब तक ही चलता है,
जबतक जिसका जिससे जितना हित निकलता है।
रिश्तों की मंडी में लेन देन ही असल कृतार्थ है,
यहाँ हर रिश्ते की बुनियाद ही स्वार्थ है।

Poem

जुनून अौर जोश

अपने  विचारों को

पढ़ने अौर पकङने के जुनून अौर जोश ने

मनन करना सीखा दिया।

मन के   विचारों  

को पन्नों पर  

शब्द जाल बना कर, ऊतारना  सीखा दिया।

हिंदी कविता

Amen- कुछ और नज़्में

Amen

Give everything away—
Ideas, breath, vision, thoughts.
Peel off words from the lips,
and sounds from the tongue.
Wipe off
the lines from the palms. 92 और  शब्द

Poetry

जीवन के रंग – 32

इस जीवन यात्रा में…..

एक बात तो बङे अच्छे से समझ आ गई,

अपनी लङाई खुद ही लङनी  होती है।

इसमें

शायद ही कोई साथ देता है,

क्योंकि

  लोग   अपनी लङाईयों अौर उलझनों में उलझने होते हैं।

Life