टैग्स » Hindi Kavita

कौन जाने.... किसको पता.... 

दिल बच्चे सा होता है
या फिर बच्चों के पास ही दिल होता है
ये बस दिल को ही पता….

आंखो में आता है वह पानी …

Hindi Kavita

बेतरतीब ख्याल 

​तकलीफ तो खुशियां जाने से होती हैं

पर बदनाम तो गम़ हो जाता है….

– प्रशांत

Random Thoughts

हम तुम और अहम

​आपकी बज्म में
आंखोसे कभी
सुनते थे नज्म

तब ग़ज़ल के हर
मतले और मक्ते में
रहते थे हम

काश मेरी नजर से
तुम देख पाती

Hindi Kavita

पानी 

Hindi version of My Marathi Poem – https://enjoyingsolitude.wordpress.com/2016/04/24/पाणी/

पानी

क्या होता है ये पानी ?

दो हायड्रोजन और इक आक्सीजन
मतलब पानी
या फिर
परदेसमें मां की याद से
आँखों में आता है वो पानी….

बारिश से मिलता है
वो पानी
या फिर
बारिश नहीं हुई
तो आता है वो पानी….

व्हेनिसमें आंखे भरके
देखा था वो पानी
या फिर
उसे देख कर तुम्हारे आंखो में
जो खुशी थी वो पानी….

होता क्या है ये पानी ?
आंखे जिसे देख सके
या फिर
आंखे जिसे छू सके

क्या होता है ये पानी….

– प्रशांत

Hindi Kavita

गम़ को साजिदार

​लगता था के एक ही गम़ काफ़ी है

अधुरी जिंदगी काटने के लिए,

पर अब जो तुम वापस आये हो तो

अकेले गम़ को साजिदार मिल गया….

– प्रशांत और हर्ष

Random Thoughts

स्मार्ट राक्षस

​सुना है

कहानी का वो,
बच्चोंका बचपन चुराने वाला राक्षस
इस बार स्मार्ट होके आया है।
.
.
.
.

कुछ लोग उसे मोबाइल
तो कुछ उसे टैब्लेट कहते हैं।

– प्रशांत

Random Thoughts

भव्य साङी- कविता saree - poem #indianTraditionalWear



#sareefestival #Shailysahayreadingitatsareefestival

 Sari  is  considered to be of  spiritual benefits in compression to Stitched fabrics . Saree is a traditional Indian wear. It is an unstitched length of cloth measuring 42 – 49″ wide and 5.5 to 9 yards in length. 10 और  शब्द