टैग्स » Hindi Kavita

Unke Honthon

http://ift.tt/2znmfWD

उन के होंठो को देखा तब एक बात उठी ज़हन में,

वो लफ्ज़ कितने नशीले होंगे जो इनसे हो कर गुज़रते है..!

http://ift.tt/2zn9ds7

मंगलसूत्र अब पहनाना छोड़ो दोस्तों

अपनी – अपनी जिंदगी को जियों दोस्तों,
दूसरों के लिए लड़ना छोड़ो दोस्तों।

ये काम हैं फेमिनिस्टों – कम्युनिस्टों का,
कभीं उनको ये करने से ना रोको दोस्तों।

अगर हौसला है तो सामाज के लिए खुद को बदलो,
दूसरों को जयचंद कहना छोड़ो दोस्तों।

रोने का काम है नारी और केजरीवाल का,
कभीं उनको ये करने से ना रोको दोस्तों।

हौसला है तो सीमा पे लड़ों,
गलियों में मुठभेड़ अब छोड़ो दोस्तों।

काली – काली रातों को काली घटाओं का पता,
किसको है खबर और अंदेशा किसको दोस्तों।

हौसला हैं तो खुद मशाल बनो।
बिजलियों से रौशनी के लिए हाथ जोड़ना छोड़ो दोस्तों।

माँ का दूध पीया है तो सेवा भी करों,
बीबी के आँचल में सोना छोड़ो दोस्तों।

बिहारी हो तो गर्व से कहना सिखों,
ये फेसबुक – व्हाट्सप पे लिखना अब छोड़ो दोस्तों।

सारे ही रिश्ते हैं यहाँ फरेब के,
मंगलसूत्र अब पहनाना छोड़ो दोस्तों।

परमीत सिंह धुरंधर

kavita kaise banti he...

na urdu aati he…

na hindi ka he pura gyan..

kavita tho bas ban jati he…

jab ekant me bait k khud he se karte he hum apna haal e dil bayan… 30 और  शब्द

Kamal Singh

मुखौटे

आज मैंने फिर से इतिहास में डुबकी लगाई, और तभी अचानक मेरी, एक पुरानी कविता बाहर आयी …चाहें तो आप भी डुबकी लगा आयें, या इसे ही पढ़कर इसमें, अपने भावों को पायें  …. :-) ;-)

मुखौटे

चेहरे कम मुखौटे ज़्यादा

दिखतें हैं इस बाज़ार में

हम बेहतर हैं तुमसे

सभी जुटे हैं इसी प्रयास में ||1||

जिसका चेहरा जितना बनावटी

वह उतना ही सफल है

छल प्रपंच से भरे खेल में

उसकी दांव प्रबल है ||2||

अपनापन का भाव कहाँ यहाँ पर

केवल स्वार्थ निहित है

भावना से भरे व्यक्ति की

हार यहाँ निश्चित है ||3||

…………अभय…………

Hindi Poem

Good Morning

http://ift.tt/2g3XZkZ

*वृद्धाश्रम की दीवार पर एक सुंदर वाक्य लिखा हुआ था..✍🏻*

*नीचे गिरे हुये सूखे पत्तों 🍂 पर ज़रा आहिस्ते से पैर रखते हुए गुज़रें….* 6 और  शब्द

Good Morning

http://ift.tt/2g3XZkZ

*वृद्धाश्रम की दीवार पर एक सुंदर वाक्य लिखा हुआ था..✍🏻*

*नीचे गिरे हुये सूखे पत्तों 🍂 पर ज़रा आहिस्ते से पैर रखते हुए गुज़रें….* 6 और  शब्द

Good Morning

http://ift.tt/2g3XZkZ

*वृद्धाश्रम की दीवार पर एक सुंदर वाक्य लिखा हुआ था..✍🏻*

*नीचे गिरे हुये सूखे पत्तों 🍂 पर ज़रा आहिस्ते से पैर रखते हुए गुज़रें….* 6 और  शब्द