टैग्स » Hindi Shayri

Tujhe chahna

तुझे चाहना कब मेरी आदत हो गई
तेरे बारे में सोचना कब मेरी इबादत हो गई
पता ही नही चला… के
कब मैं खुद से दूर हो गया…

सब कुछ भुला देने वाली तेरी हंसी से
सहमी सी उस नज़र से और
तेरे ख़्वाबों से कब मुझे मुहोब्बत हो गई
पता ही नही चला… के
कब मैं खुद को भूल गया…

Hindi Shayri

ye udasi

ये उदासी किस्मत है मेरी या मेरी आदत
या फिर इश्क़ में तबियत ऐसी हो गई है मेरी

2 Line Shayri

Shayari love

1) 

Banane Wale Ne Bhi Tujhe,

Kisi Karan Se Banaya Hoga,

Choda Hoga Jab Zameen Par Tujhe,

Uske Seene Mein Bhi Dard To Aaya Hoga… 431 और  शब्द

Hindi Shayri

मै किसान हूँ...

मै किसान हूँ…
चीर के सीना धरती का, खुद का लहू बहा दिआ
बंजर कहते जिसको सब, उस पर भी फसल लह लहा दिआ
मै किसान हूँ
तन भी मेरा मिट्टी का
गुजार दी जिंदगानी इस मिट्टी में
हमने जिसका कभी स्वाद न चखा
हर भूखे को खिला दिआ
कुछ ऐसा मै इंसान हूँ
मै किसान हूँ
क्यों इतराते हो इतना कागज के उस तुकडे पे
जिसे मशीने बनाती है
हर सक्स से पूछ के देख लो
जो कहते है की भूक तो सिर्फ, रोटी ही मिटाती है
मानता नही कोई, पर मै जानता हूँ
की मै भारत की शान हूँ
मै किसान हूँ……..

हिंदी कविता