यदि आप जीवन में सफलता ,उन्नति ,संपन्नता एवं समृध्दि चाहते है तो स्वावलंबी बनिए । आत्मविश्वास में वह ताकत है जो हजार विपत्तियों का सामना कर उन पर पूरी – पूरी विजय प्राप्त कर सकती है । यही मनुष्य का सच्चा मित्र और उसकी सबसे बड़ी पूंजी हैं ।